Wednesday, 7 November 2018

2018 में कानून भी पैसे वालों के ही हाथ में है, तस्वीरें देखकर आप भी यही कहेंगे

2018 में कानून भी पैसे वालों के ही हाथ में है, तस्वीरें देखकर आप भी यही कहेंगे




नमस्कार दोस्तों आप सभी का एक बार फिर से मेरे लेख में स्वागत है, दोस्तों जैसे की आप सभी तो जानते ही है की हमारे देश में कानून की हालत क्या है. आजकल अगर आप कहीं पर इन्साफ़ मांगने जाओ तो वहां पर आपको इंसाफ नहीं मिलता है क्योंकि कानून गरीव का नहीं बल्कि अमीर का साथ देता है. तो आज में आप सभी के सामने कुछ ऐसी ही तस्वीरें ले कर आया हुं. चलिए दोस्तों तो शुरू करते है. 

देखे कैसे कानून अमीर का ही साथ देता है 

2018 में कानून भी पैसे वालों के ही हाथ में है, तस्वीरें देखकर आप भी यही कहेंगे

आजकल पुलिस के सामने भी गुनाह हो जाता है पर पुलिस कुछ नहीं करती है और हम सोचते है की पुलिस नकारा है, पर असलियत तो कुछ और ही होती है. असल में कानून के हाथ भी कानून ने ही बाँध कर रखे होते है और वो भी कुछ नहीं कर सकते है. 
2018 में कानून भी पैसे वालों के ही हाथ में है, तस्वीरें देखकर आप भी यही कहेंगे

आजकल अगर कानून से जीतना है तो आपके पास पैसे होने चाहिए. यदि आपके पास पैसे है और आप कुछ गलत काम भी कर रहे है तो आपको कोई कुछ नहीं बोलेगा आप बाइज़त बरी हो जाओगे क्योंकि आपके पास पैसा है. पर अगर अापने कुछ भी नहीं किया है और आपके पास पैसे नहीं है तो आपको कानून सालों तक घसीटेंगे. 
2018 में कानून भी पैसे वालों के ही हाथ में है, तस्वीरें देखकर आप भी यही कहेंगे

अमीर आदमी की तरफ ही आज के समय में सरकार का झुकाव ज्यादा रहता है और ग़रीब की कोई नहीं सुनता है. अगर अमीर के घर में पानी नहीं आ रहा है तो अगले ही दिन सरकारी कर्मचारी आ कर पानी ठीक कर के जाते है. और ग़रीब के घर में अगर एक साल से भी पानी ना आया हो तो भी कोई ठीक करने नहीं आता है बस कह देते है की कल आयें. 
2018 में कानून भी पैसे वालों के ही हाथ में है, तस्वीरें देखकर आप भी यही कहेंगे

आजकल कानून भी झुक जाता है जब उसके सामने पैसा आ जाता है. अापने भी कई बार देखा होगा जब किसी सख्स को जेल हो जाती है, और अगले ही दिन फिर से केस री ओपन हो जाता है और जिसे जेल की सज़ा सुनाई होती है उसे फिर से बरी कर दिया जाता है. कमाल है कानून भी. 
2018 में कानून भी पैसे वालों के ही हाथ में है, तस्वीरें देखकर आप भी यही कहेंगे

जो झूठ बोलता है और जिसके पास पैसा है वो कानून को किसी भी दिशा में ले कर जा सकता है. अमीर आदमी के केस में तो अमीर आदमी अगर गुन्हेगार भी हो तो भी कानून उसे छोड़ देता है. और गरीव आदमी के तो केस पता नहीं कितने साल तक कोट में चले रहते है. 

No comments:

Post a Comment